माइकल जॉर्डन – गरीब से इतिहास रचने तक का सफर

0
50
माइकल जॉर्डन - गरीब से इतिहास रचने तक का सफर
Michael Jordan - Life Success Story

माइकल जॉर्डन

माइकल जॉर्डन – गरीब से इतिहास रचने तक का सफर – Life success stories

हर सुबह सूरज उगने से पहले मैं उठ जाता हूं और अपना ब्रेकफास्ट खुद बना कर ट्रेनिंग ग्राउंड तक जाने के लिए जब रोड पर निकलता था तब रास्ते पर कोई नहीं होता था क्योंकि जब मैं ट्रेनिंग के लिए निकलता था तब लोग उठते भी नहीं थे।। ट्रेनिंग ग्राउंड पर सबसे पहले पहुंचकर जब में प्रैक्टिस शुरू करता तब वहां कोई नहीं होता था और जब सब आ जाते हैं और शाम को प्रैक्टिस करके अपने घर चले जाते तब भी मैं चार-पांच घंटे एक्स्ट्रा प्रैक्टिस करता था।

क्योंकि मैं जो कर रहा था मुझे उस काम में बेस्ट इन द वर्ल्ड बनना था। यह वर्ड्स उस लेजेंड्स के है जिसे गॉड ऑफ बास्केटबॉल, जिसे माइकल जॉर्डन के नाम से जानते हैं हम, जैसे क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर है, फुटबॉल में पेले है, डांस में माइकल जैक्सन है, उसी तरह बास्केटबॉल में अगर किसी को सबसे टॉप में माना जाता है तो वो माइकल जॉर्डन है।

Inspirational moral stories

चलो आज आपको उनकी लाइफ से जुड़ी मोटिवेशनल स्टोरी सुनाता हु। 1963 में ब्रुकलिन के स्लम में पैदा हुऐ जॉर्डन, वह काफ़ी गरीब परिवार से थे। जब जॉर्डन 13 साल के थे तब उनके फादर ने सेकरेंट टी-शर्ट का बिजनेस स्टार्ट किया। एक दिन उनके फादर ने जॉर्डन को बुलाया और एक टी-शर्ट दिया और कहा कि यह टी-शर्ट कितने का होगा तब जॉर्डन ने कहा कि 1$ का होगा पर तभी उनके फादर ने कहा कि इससे 2$ का बेच कर दिखाओ इसको 2$ का बेच के आओ। तभी जॉर्डन ने वो टी-शर्ट लिया और अपने दोस्त के यहाँ गए ओर उस टी-शर्ट को धोया पूरा क्लीन किया और लगभग पूरे दिन मार्केट में खड़े रहकर उसको 2$ में बेच ही दिया।

माइकल जॉर्डन – Life success stories

यह भी पढ़ें :- Maa Bete Ki Kahani – माँ – बेटे का मिलान

कुछ दिन बाद उनके फादर ने फिर से जॉर्डन को बुलाया और फिर से एक टी-शर्ट दिया और कहा कि इस बार 20$ में बेचकर दिखाओ। जॉर्डन को इस बार यह थोड़ा मुश्किल लगा कि कौन यूज किए हुए टी-शर्ट को 20$ में ख़रीदेगा, लेकिन उन्होंने उनके फादर के इस आर्डर को deny नहीं किया और अपने एक कजन के पास जाकर टी-शर्ट पर मिकी माउस और डॉनल्ड डक का कार्टून प्रिंट करवाया और टीशर्ट को बेचने के लिए अमीर बच्चों के स्कूल के बाहर खड़े हो गए।

तभी अपने पैरंट्स के साथ स्कूल आ रहे एक अमीर बच्चे को वो टी-शर्ट पसंद आई और उन्होंने वोट टी-शर्ट 20$ में खरीद ली ओर साथ मे 5$ की टिप दी और वे जब घर पहुंचे तो उनके फादर ने उनको फिर से एक टी-शर्ट दे दी और कहा कि इस बार इसे 200$ में बेच कर दिखाओ।

माइकल जॉर्डन – motivational story in hindi

जॉर्डन ने इसे नेक्स्ट इंपॉसिबल लगने वाले चैलेंज को भी एक्सेप्ट कर दिया और टी-शर्ट अपने पास रख लिया। कुछ दिनों बाद न्यूयार्क सिटी में 40 एंजर एक्स शो आता है उस शो की फेमस एक्ट्रेस इनका फेम बहुत तगड़ा था, फराफ़्यूसेट जो किसी कॉन्फ्रेंस के लिए आने वाली थी और उसी दिन जॉर्डन भी वहां पहुंच गए और प्रेस कॉन्फ्रेंस खत्म होने के बाद उन्होंने जैसे-तैसे करके फराफ़्यूसेट का ऑटोग्राफ उस टी-शर्ट पर ले लिया और अपने सहर वापस चले गए और उस टी-शर्ट को नीलाम में बेचने गए और वहीं उसी जगह फराफ़्यूसेट का बहुत बड़ा फैन था।

उसने उस टी-शर्ट की बोली लगाई 1200$ और उसने उस टी-शर्ट को 1200$ में खरीद ली जब उन्होंने वो पैसा आपने फादर को जाकर दिया तो उनके फादर ने प्राउडली कहा की जब कोई इंसान अपना पूरा पोटेंशियल किसी चीज पर लगा देता है तो वो नेक्स्ट इंपॉसिबल चीज को भी पॉसिबल कर सकता है, कुछ भी पा सकता है और वही पोटेंशियल जॉर्डन को एक दिन बास्केटबॉल में सबसे टॉप पे लाता है।

Michael Jordan – Inspirational stories of success

यह भी पढ़ें :- पहाड़ों या पर्वत से जुड़़े महत्‍वपूर्ण तथ्‍य – Mountains Facts

आज माइकल जॉर्डन दुनिया के सबसे अमीर एथलीट में से एक है जिनकी नेटवर्थ 1.6 बिलीयन डॉलर्स है। दुनिया की सबसे बड़ी स्पोर्ट्स मैन्युफैक्चर कंपनी नाइक बॉस्केटबॉल में यूज होने वाले शूज भी डिअर जॉर्डन के नाम से बनाती है। जॉर्डन बॉस्केटबॉल के अब तक के सबसे महंगे खिलाड़ी है क्योंकि एक स्लम जो की जोबड़ी होती है वहां से लेकर बिलेनियर बनने के सफर के बारे में जॉर्डन कहते हैं कि कुछ लोग काम करना चाहते हैं। कुछ लोग विश करते हैं कि काम हो जाए और कुछ लोग वो होते हैं जो काम करके दिखाते है।

तो आज की यह मोटिवेशनल स्टोरी आप को किसी लगी आप हमे Comment करके बता सकते हैं।

Previous articleMaa Bete Ki Kahani – माँ – बेटे का मिलान
Next articleसफलता की कहानी – बकरी पालने वाले की सफलता की कहानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here