Short Stories – मनुष्य जीवन की ईश्वर प्राप्ति में बाध्यता की कहानी

0
40
Short Stories - मनुष्य जीवन की ईश्वर प्राप्ति में बाध्यता
Short Stories

Short Stories

मनुष्य जीवन की ईश्वर प्राप्ति में बाध्यता की कहानी – short stories

एक शिष्य ने अपने गुरु से पूछा, गुरु जी आप कहते हैं कि मनुष्य होने की कई बाध्यताएं हैं और यही बाध्यताएं हममें से अधिकांश के प्रभु प्राप्ति के मार्ग में बाधक है। जितना इस बारे में सोचता हूं मेरी बुद्धि उतनी ही परेशान कर डालती है। तब गुरु जी ने कहा, वत्स चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है।

शीघ्र ही तुम्हारी शंका का समाधान हो जाएगा। कुछ दिन बाद गुरु जी अपने शिष्य के साथ एक जंगल से गुजर रहे थे। जंगल में उन्होंने देखा कि एक झील में प्रवासी पक्षियों के झुंड किरणा कर रहे हैं। बड़ा ही मनमोहक दृश्य था। सभी उस दृश्य को निहार उसका आनंद ले रहे थे।

यह भी पढ़ें :- चूहा और ऋषि मुनि की कहानी – अहसान फरामोश Short Stories

शिष्य अचानक बोल उठा गुरु जी क्या सुंदर दृश्य है यह पक्षी हजारों लाखों मील का सफर तय कर यहां आए हैं। यह किरणा कर रहे हैं आनंदित हो रहे हैं। तब गुरु जी ने कहा याद है तुमने अभी कुछ समय पूर्व एक प्रश्न पूछा था। मनुष्य जीवन की बाध्यता है कि हमने अपने आप को बांध रखा है।

हम मुक्त नहीं है। इन पक्षियों को देखो जीवन इन्हें जहां ले जाता है यह जाते हैं। जीवन की पुकार सुनते हैं। चल पड़ते हैं मगर मनुष्य अपने को मुक्त नहीं कर पाया है। हमने अपने आप को कई तरह के बंधनों में बांध रखा है।

ईश्वर की प्राप्ति की कहानी

हममें से कोई हिंदू है, कोई ईसाई है कहीं हम भारतीय हैं, कहीं चीनी है कहीं अमेरिकी कहीं हम काले हैं, कहीं हम गोरे हैं। मनुष्य ने अपने आप को रंगो, जातियों, भाषाओं संस्कृतियों, धर्मो भी ना जाने कितने – कितने बंधनों में बांध रखा है। हम लाख चाहे कितनी भी कोशिश कर ले। हम सब इस से बच नहीं सकते।

यह भी पढ़ें :- लालची कुत्ता की कहानी – Lalchi Kutta Short Stories – The Greedy Dog

मनुष्य होने की यही बाध्यता हमारे प्रभु मार्ग में बाधक है यही बंधन हमें मुक्त नहीं होने देता। अगर हम इन बंधनों को तोड़ सके तभी हम अपना दीपक स्वयं बन सकते हैं। सत्य जान सकते हैं।

तो दोस्तों आपको यह कहानी कैसी लगी, आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं।

Previous articleTop 3 Omg Facts In The World – मानव जीवन से जुड़े कुछ अद्भुत तथ्य in hindi
Next articleकौवे और मैना की कहानी – kauwa aur maina ki kahani

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here